राजनीति
Trending

मालदीव के नये राष्ट्रपति मो. मुइज्जू और PM Modi के बीच बैठक, अब थमेगा चीनी ‘गुलाम’ का ‘एंटी इंडिया’ कैम्पेन

विज्ञापन
WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

(PM Modi) मालदीव में एंटी-इंडिया कैम्पेन चलाने वाले और चीन समर्थक माने जाने वाले नये राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू और भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मुलाकात हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक, भारत और मालदीव शुक्रवार को अपनी साझेदारी को और गहरा करने के लिए एक कोर ग्रुप गठित करने पर सहमत हुए हैं।

विज्ञापन

PM Modi के आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने मालदीव के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के साथ “सार्थक” बैठक की है और विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय मित्रता बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की। कोर ग्रुप के गठन का फैसला, COP28 विश्व जलवायु कार्रवाई शिखर सम्मेलन के मौके पर प्रधान मंत्री मोदी और राष्ट्रपति मुइज़ू के बीच पहली बैठक में लिया गया है।

बैठक के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा, कि “राष्ट्रपति @MMuizzu और मेरी आज एक सार्थक बैठक हुई। हमने विभिन्न क्षेत्रों में भारत-मालदीव मित्रता को बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की। हम अपने लोगों के लाभ के लिए सहयोग को गहरा करने के लिए मिलकर काम करने को उत्सुक हैं।”

प्रधान मंत्री कार्यालय के अनुसार, दोनों नेताओं ने आर्थिक संबंधों, विकास सहयोग और लोगों से लोगों के संबंधों से संबंधित क्षेत्रों में भारत-मालदीव संबंधों को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की। मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन के करीबी सहयोगी रहे मोहम्मद मुइज्जू, जिन्होंने 2013 से 2018 तक अपने राष्ट्रपति पद के दौरान चीन के साथ घनिष्ठ संबंध बनाए, ने सितंबर में हुए राष्ट्रपति पद के चुनाव में भारत के मित्र इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को हराया था और फिर पिछले महीने राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी।

शुक्रवार को मोदी ने मालदीव के राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभालने पर मुइज्जू को व्यक्तिगत रूप से बधाई दी। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, कि “दोनों नेताओं ने लोगों से लोगों के बीच संपर्क, विकास सहयोग, आर्थिक संबंध, जलवायु परिवर्तन और खेल सहित दोनों देशों के बीच व्यापक द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की।” बयान में कहा गया, “दोनों नेताओं ने अपनी साझेदारी को और गहरा करने के तरीकों पर भी चर्चा की। इस संबंध में, वे एक कोर ग्रुप स्थापित करने पर सहमत हुए।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button