अपराधउत्तर प्रदेश

भारतीय टीम की करारी हार से मालामाल हुआ सट्टा बाजार, सट्टा लगाने वालों को लगा 2 सौ करोड़ रुपए का झटका

ऑनलाइन क्रिकेट सट्टा पर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, सट्टा लगाने वालों को 2 सौ करोड़ रुपए का झटका..

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

उत्तर प्रदेशचुनाव के बीच सट्टा का भी माहौल गर्म है। राजनीतिक पार्टियों पर करोड़ों रुपए के सट्टे लग रहें है तो कहीं सीटों पर भी दांव लगाए जा रहे हैं। अभी हाल ही में हुए क्रिकेट मैच पर तो हजारों करोड़ रुपए सट्टे में लगाए गए। मिली जानकारी के मुताबिक विश्वकप फाइनल मैच में भारतीय टीम की करारी हार से सट्टा बाजार मालामाल हो गया। लोगों ने भारतीय टीम की जीत पर दांव लगाए थे।

फाइनल मैच में न तो भारतीय बल्लेबाज चले और न ही गेंदबाज कोई कमाल दिखा सके। शुरू के तीन विकेट के बाद भारतीय गेंदबाज एक और विकेट के लिए हाथ ही मलते नजर आए। ताजनगरी में ही सट्टा लगाने वाले लोगों के 200 करोड़ से अधिक डूब गए।

भारतीय टीम के फाइनल में पहुंचते ही सट्टा बाजार में बूम आ गया था। बुकियों के चेहरे खिल गए थे। दोपहर टास के साथ ही दांव लगना शुरू हो गए थे। शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसर गया था। नीली जर्सी पहनकर लोग स्क्रीन के सामने चिपक गए थे। एक अनुमान है कि अकेले आगरा में 200 करोड़ से अधिक की रकम लोगों ने सट्टे में लगाई। पूरा खेल ऑन लाइन चल रहा था। भारतीय बल्लेबाजी निराशाजनक रही। कई लोगों ने बीच मैच में भाव काटे। उस समय तक बहुत देर हो चुकी थी।

विश्वकप फाइल में क्रिकेट बुकियों पर शिकंजे के लिए रविवार की दोपहर मैच शुरू होने से कुछ देन पहले पुलिस भी सक्रिय हुई। एसओजी और सर्विलांस टीम ने छापेमारी शुरू की। बल्केश्वर में दबिश देकर तीन बुकियों को पकड़ा गया। पुलिस को देखकर भागते समय एक आरोपी जख्मी हो गया। उसे इलाज के लिए एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

आरोपी पहले भी कई बार जेल जा चुका है। पुलिस ने पूर्व में उसकी तबियत से पिटाई लगाई थी इसलिए पुलिस को देखकर भाग रहा था। पुलिस ने यूनुस उसके भाई नौशाद और देवेंद्र लाला को गिरफ्तार किया था। पुलिस से बचकर भागते समय यूनुस जख्मी हो गया था।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button