मध्यप्रदेशराजनीति
Trending

Chunav में समधी ने समधन को दी करारी शिकस्त, महाराजा को जीत का उपहार न दे पाईं सिंधिया समर्थक, जानें कहां पलटा पूरा खेल

बीजेपी की इमरती देवी 82450 मत हासिल कर सकीं। यानी कांग्रेस ने 2267 वोटों से विधानसभा सीट जीत ली।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

भोपाल: (Chunav) मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिल गया है। अब तक के रुझानों में मध्य प्रदेश में भाजपा 166 पार पहुंच गई है और राजस्थान में भी बहुमत के आंकड़े को पार कर लिया है। छत्तीसगढ़ में भी भाजपा जीतती दिख रही है। वहीं तेलंगाना में कांग्रेस भारी बहुमत के साथ सत्ता में आती नजर आ रही है। एमपी से शिवराज सिंह चौहान की विदाई का रास्ता देख रहे विरोधियों को भी करारा जवाब मिला है। बीजेपी ने एमपी में ऐसा खेल दिखाया है कि कांग्रेस की रातों की नींद उड़ चुकी है। कांग्रेस को केवल 66 सीटों से संतोष करना पड़ा।

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने मध्य प्रदेश में अपना मुख्य चुनावी नारा ‘एमपी के मन में मोदी, मोदी के मन में एमपी’ दिया था। साथ ही मोदी ने राज्य की जनता को अपनी गारंटी भी दी। यानी चुनाव मोदीमय हो गया और जनता ने भी इस पर अपनी मुहर लगाकर भाजपा के माथे पर बड़ी जीत का सेहरा बांध दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कार्यकर्ता भाव से अथक मेहनत और लाडली बहना योजना इस पूरी रणनीति का टर्निंग पॉइंट साबित हुई।

बता दें कि एमपी गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, गणेश सिंह, गौरीशंकर बिसेन जैसे कई मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा। इस बीच सिंधिया समर्थक इमरती देवी को भी करारी शिकस्त मिली है। दरअसल, मध्य प्रदेश की मुखर महिला नेत्री और अपने बयानों के चलते अक्सर चर्चा में रहने वालीं इमरती देवी के भाई की बेटी की शादी सुरेश राजे के बड़े भाई के बेटे से हुई है। इस नाते रिश्ते में दोनों समधी-समधन लगते हैं। इस चुनावी लड़ाई में कांग्रेस के सुरेश राजे को 84717 वोट मिले जबकि बीजेपी की इमरती देवी 82450 मत हासिल कर सकीं। यानी कांग्रेस ने 2267 वोटों से विधानसभा सीट जीत ली।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button