अपराधछत्तीसगढ़

नक्सलियों का बढ़ता आतंक, Deputy Sarpanch को उतारा मौत के घाट, पर्चा फेंककर लिखी ये बात

बीजापुर से भोपालपटनम के बीच NH में पर्चें फेंककर PLGA की 23 वीं वर्षगांठ के मनाने का उल्लेख किया है।

Advertisement
WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

पखांजूर: (Deputy Sarpanch) छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित इलाकों में इन दिनों नक्सलियों की चहलकदमी बढ़ने लगी है। आए दिन नक्सली किसी न किसी वारदात को अंजाम दे रहे हैं। इसी बीच आज नक्सलियों ने पखांजूर के कंदड़ी गाव के उपसरपंच रामसू कचलामी की हत्या कर दी है। वहीं, भारी मात्रा में बैनर तथा पर्चा फेंककर पुलिस मुखबिरी करने के शक में हत्या करने की बात लिखी है।

दरअसल, नक्सलियों द्वारा 2 से 8 दिसंबर तक पीएलजीए की वर्षगांठ मनाई जाएंगी, जिसे लेकर वे बीते दिनों से नक्सली पीएलजीए की वर्षगांठ मनाने के लिए जगह-जगह बैनर-पोस्टर फेंककर ग्रामीणों से अपील कर रहे है। वहीं, आज नक्सलियों द्वारा सड़क पर ट्रैक्टर चलाकर 2 जगह खोदे गए हैं। नक्सलियों ने अचिनपुर और बुरका 2 जगह सड़क खोदे हैं और गांव में बैनर पोस्टर से छावनी में तब्दील किया है।

वहीं, बुरका में लगे मोबाइल टॉवर में आगजनी की है। बता दें कि नक्सलियों ने कुछ दिन पहले मालेवाही थाना क्षेत्र में भी मोबाइल टावर के जनरेटर में आग लगाई थी। वहीं, मौके पर पर्चे भी फेंककर नक्सलियों ने 2 से 8 दिसंबर तक PLGA सप्ताह मनाने की अपील की ती। नक्सलियों की इन हरकतों से गांव में दहशत का माहौल है। छोटेबेठिया थाना क्षेत्र का यह पूरा मामला है।

बीजापुर में भी माओवादियों नें पर्चे फेंके हैं। बीजापुर से भोपालपटनम के बीच NH में पर्चें फेंककर PLGA की 23 वीं वर्षगांठ के मनाने का उल्लेख किया है। बता दें कि हर साल 2 से 8 दिसंबर तक पीएलजीए की वर्षगांठ मनाते हैं। बता दें कि पीएलजीए यानी पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी की इस बार 23वीं वर्षगांठ है। नक्सलियों ने गुरिल्ला युद्ध के लिए साल 2000 में पीएलजीए की स्थापना की थी। इसी खुशी में नक्सली हर साल पीएलजीए की स्थापना दिवस मनाते हैं।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button