छत्तीसगढ़

भव्य स्वागत द्वार,आकर्षण का केंद्र बना तारसगांव का दिव्यांग मतदान केंद्र,खूब सेल्फी लिए मतदाता

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

कांकेर :- विधानसभा निर्वाचन 2023 में चारामा ब्लॉक में भारी मतदान हुआ है। ब्लॉक में इस बार 80 प्रतिशत से भी ज्यादा मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी की पहल पर जिले के सभी आदर्श मतदान केंद्रों को इस बार बेहतरीन साज सज्जा से सुशोभित किया गया। विकासखंड चारामा के तारसगांव मतदान केंद्र को दिव्यांग मतदान केंद्र के रूप में चिन्हित किया गया था।

इस मतदान केंद्र में 1153 सामान्य मतदाताओं के साथ 20 दिव्यांग मतदाता थे,जिनमें से 19 मतदाताओं ने मतदान कर कीर्तिमान स्थापित किया। इस मतदान केंद्र में आकर्षक स्वागत द्वार बनाया गया था,जहां पर हाई स्कूल की मतदाता मित्र बालिकाओं ने छत्तीसगढ़ी पारंपरिक साड़ी पहनकर दिव्यांग मतदाताओं एवं सामान्य मतदाताओं को मतदान केंद्र तक ट्राईसाइकिल से पहुंचाती रही, जिसकी पूरे क्षेत्र में काफी तारीफ हुई।

पूरे परिसर में सभी और दिव्यांग मतदाताओं के फ्लेक्स लगाए गए थे,वहीं पेड़ पौधों पर चुनई चिरई लगा कर सजाया गया था, जो बरबस मतदाताओं को व लोगों को अपनी और आकर्षित करता रहा। परिसर में पारंपरिक छत्तीसगढ़ी परिवेश में बालिकाओं के सजधज कर रहने व मतदाताओं को प्रेरित करने से शोभा बढ़ गई। मतदाताओं के लिए परिसर की साज सज्जा को ध्यान में रखते हुए खूबसूरत सेल्फी कॉर्नर तैयार किए गए थे। अपना मतदान करने के बाद पूरे परिसर में घूम-घूम कर जगह जगह सेल्फी लेते रहे और परिवार के साथ फोटो खींचते रहे।

मतदाता इस केंद्र की तारीफ लगातार करते रहे। तारसगांव में इतनी सुंदर थीम पर मतदान पहली बार हुआ। क्रमांक 264 तारसगांव में उपचुनाव में 72% मतदान हुआ था जबकि इस विधानसभा चुनाव में 80% मतदान हुआ। स्पष्ट है कि इस आदर्श दिव्यांग मतदान केंद्र की परिस्थिति से क्षेत्र के मतदाताओं को ज्यादा मतदान हेतु प्रेरित करने में मदद मिली है।

इस मतदान केंद्र में उच्चतर माध्यमिक विद्यालय शाहवाडा के व्याख्याता पी आर बघेल ने दिव्यांग होते हुए भी पूरे समय मतदान दलों के कार्यों में सहयोग किया, पूरे परिसर को सजाने में मास्टर ट्रेनर मोहन जायसवाल एवं बीएलओ अखिलेश अरकरा सलीम शोरी – 12वींअंकित जैन- 12 वीं पिंकी शोरी – 12 वीं,डिम्पल पोया- 12 वीं,नीता पोया- 12 वीं,हीना महावीर – 12 वीं,नीलिमा जैन – 12 वीं,हरीश शार्दूल – 11वीं नवनीत शोरी का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button