अपराधछत्तीसगढ़
Trending

बहुचर्चित Joshi Murder Case का मास्टर माइंड महाराष्ट्र से गिरफ्तार, व्यापारी से बदला लेने उसके कर्मचारी को उतारा मौत के घाट

सुरेश जोशी हत्याकाण्ड के मास्टर माइंड फरार आरोपी प्रकाश गोलछा को राजनांदगांव पुलिस ने महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement
WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

राजनांदगांव: सुरेश जोशी हत्याकाण्ड (Joshi murder case) के मास्टर माइंड फरार आरोपी प्रकाश गोलछा को राजनांदगांव पुलिस ने महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने षडयंत्रपूर्वक योजना बनाकर व्यापारी को ब्लैकमेल करने की नीयत से उसके कर्मचारी की हत्या की थी। इस हत्या में सहयोग करने वाले 04 आरोपी को पूर्व में ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था ।

राजनांदगांव पुलिस ने बहुचर्चित Joshi murder case के मास्टर माइंड प्रकाश गोलछा को महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी प्रकाश गोलछा हत्या के बाद फरार हो गया था। इस मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बीते दिनों 22 नवंबर 2023 को पुलिस ने पार्रीनाला के समीप एक शव बरामद किया था ।

मृतक की पहचान सुरेश जोशी के रूप में की गई थी। सुरेश जोशी अरिहंत एजेंसी के संचालक ज्ञानचंद बाफना का कर्मचारी था। मृतक के पास एक सुसाइट नोट मिला था। पुलिस शव का मुआयना के दौरान यह आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या का मामला लगा। इसके बाद एक टीम गठित कर विवेचना मे जुट गई और पतासाजी करने लगी रही।

इसी दौरान पुलिस को पता चला कि अरिहंत एंजेसी के संचालक ज्ञान चंद बाफना को ब्लैक मेल करने की नीयत से उनके कर्मचारी सुरेश जोशी को कोलड्रिंक में जहर पिलाकर हत्या कर दी और शव को पार्री नाला के समीप फेंक दिया था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस मामले में पूर्व में चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था, लेकिन हत्याकांड का मुख्य आरोपी प्रकाश गोलछा फरार हो गया था।

आरोपी को पकड़ने सायबर सेल राजनांदगांव व कोतवाली पुलिस तथा रेलवे सुरक्षा बल राजनंदगांव के सयुक्त गठित टीम को गोदिया, नागपुर, महाराष्ट्र एवं दुर्ग, भिलाई, रायपुर की ओर रवाना किया गया था। गठित टीम द्वारा आरोपी प्रकाश गोलछा को मुखबीर की सूचना पर गोदिया महाराष्ट्र में घेराबंदी कर धर दबोचा। पुलिस द्वारा आरोपी प्रकाश गोलछा से पूछताछ करने पर उसने बताया कि लगभग 15 वर्ष पूर्व से स्कूल की जमीन को लेकर विवाद था।

इस विवाद में ज्ञानचंद बाफना से उसे पैसा लेना था। करीबन 02 वर्ष पूर्व स्कूल के पूरे कैम्पस की बिक्री हो गई, परंतु उसे उसके हिस्से का पैसा नहीं दिया गया था। इसका बदला लेने और ज्ञानचंद बाफना को ब्लैकमेल करने के लिए उसने पूरी साजिश रची थी। पुलिस ने आरोपी प्रकाश गोलछा से घटना में प्रयुक्त स्विफ्ट कार मोबाइल एवं मृतक का मोबाइल जब्त कर लिया है और अग्रिम कार्यवाही के लिए न्यायालय मे प्रस्तुत किया है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव मोहित गर्ग ने दी है।

Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button