मध्यप्रदेशराजनीति

Congress नेता ने किया हार की वजहों पर बड़ा ‘खुलासा’.. बताया वर्षों से क्यों हार रही है पार्टी, बताया ‘आंकलन भी मुश्किल’

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

भोपाल: पिछले दिनों संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे (Congress) कांग्रेस के लिए अप्रत्याशित थे। पार्टी छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्यप्रदेश में निराशाजनक प्रदर्शन किया नतीजनत तीनो ही राज्यों में उन्हें करारी हार का सामान करना पड़ा। छत्तीसगढ़ और राजस्थान में जहाँ कांग्रेस को सत्ता से बाहर होना पड़ा तो वही मध्यप्रदेश में कमलनाथ की वापसी का सपना भी चकनाचूर हो गया।

बात एमपी की ही करें तो इस बार यहाँ (Congress) कांग्रेस को पूरा विश्वास था कि वह शिवराज सिंह के खिलाफ सरकार विरोधी लहर का फायदा उठाते हुए उन्हें सत्ता से बाहर कर देंगे। जबकि 2018 में हुई चूक से भी कांग्रेस ने सबक लेते हुए अपनी रणनीति तैयार की थी। हालाँकि जब नतीजे सामने आये तो कांग्रेसी खेमे में सन्नाटा पसर गया। एमपी को कांग्रेस में अब तक के सबसे बड़ी हार का भी सामना करना पड़ा। पार्टी के खाते में महज 66 सीटें ही आई जबकि भाजपा ने 230 में से रिकॉर्ड 163 सीटों पर कब्जा जमाया। इसी तरह एक सीट अन्य के खाते में गई।

इस पूरे हार को लेकर पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस के दिग्गज नेता लक्ष्मण सिंह ने अपने एक्स अकाउंट पर पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा है कि “कांग्रेस के सर्वे में मध्य प्रदेश में (Congress) कांग्रेस जीत रही थी। सही भी था,दुर्भाग्यवश सर्वे में भीतरघात कहां कहां होगा यह आंकलन नहीं हो सकता। यही मुख्य कारण है वर्षों से कांग्रेस की हार का !!”

बता दे कि (Congress) कांग्रेस नेता लक्ष्मण सिंह इस बार चाचौड़ा सीट से किस्मत आजमा रहे थे लेकिन उन्हें भाजपा उम्मीदवार प्रियंका मीणा ने बड़े मार्जिन से हरा दिया। बीजेपी उम्मीदवार प्रियंका मीना को 110254 वोट मिले। इसके मुकाबले कांग्रेस उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह को 49684 मत ही हासिल हो पाए। AAP उम्मीदवार ममता मीना को 27405 वोट मिले. लक्ष्मण सिंह ने पोस्टल बैलेट्स में सर्वाधिक 562 वोट हासिल किए। बता दें कि 31 साल की प्रियंका मीना मध्य प्रदेश की सबसे युवा विधायक बनी हैं।

विज्ञापन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button